भारत के रेलवे स्टेशनों को विश्वस्तरीय बनाने को 5.4 करोड़ रुपये खर्च करेगा फ्रांस

Daily Hunt News 11-06-2019 20:19:57

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे स्टेशनों का विश्वस्तरीय सुविधाओं से लैस करने के लिए भारत ने फ्रांस के साथ एक समझौता किया है। इसके तहत फ्रांस की एजेंसी सात लाख यूरो अर्थात् 5.4 करोड़ रुपये भारतीय रेलवे स्टेशनों को बनाने में खर्च करेगी। भारतीय रेलवे पर इसका कोई वित्तीय बोझ नहीं पढ़ेगा।

रोडवेज विभाग में घोटालों की सीबीआई से कराई जाए जांच : अनूप सहरावत
यह भी पढ़ें

भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम(आईआरएसडीसी) ने फ्रेंच नेशनल रेलवेज(एसएनसीएफ) और फ्रांस की एजेंसी-एएफडी के साथ मिलकर एक त्रिपक्षीय समझौता किया है। समझौते पर रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी और फ्रांस सरकार के यूरोप और विदेश मंत्रालय में राज्य मंत्री जीन बापटिस्ट लेमोयिन, भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जिगलर और दोनों पक्षों के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।

इस समझौते के तहत, फ्रांस की एजेंसी एएफडी ने भारत में रेलवे स्टेशन विकास में सहायता के लिए आईआरएसडीसी के लिए तकनीकी साझेदार के रूप में फ्रेंच नेशनल रेलवेज(एसएनसीएफ)-हब्स और कनेक्शंस के माध्यम से अधिकतम 7,00,000 यूरो अर्थात् 5.4 करोड़ रुपये का अनुदान देने पर सहमति व्यक्त की है। इससे आईआरएसडीसी अथवा भारतीय रेल पर कोई वित्तीय बोझ नहीं पड़ेगा।

इस अवसर पर रेल राज्यमंत्री सुरेश अंगड़ी ने कहा कि रेलवे के क्षेत्र में भारत और फ्रांस के बीच एक मजबूत और पुरानी साझेदारी है। फ्रेंच रेलवेज(एसएनसीएफ) पिछले समय में दिल्ली-चंडीगढ़ रेलखंड के लिए गति बढ़ाने पर आधारित अध्ययन के संचालन में और लुधियाना एवं अम्बाला स्टेशनों के विकास में भारतीय रेल के साथ जुड़ा रहा है। मैं मानता हूं कि भारत-फ्रांस के बीच सहयोग को और अधिक मजबूत करने में यह प्रयास काफी कारगर साबित होगा और भारतीय रेल को अपने स्टेशनों को विश्व स्तरीय मानकों के अनुरूप तैयार करने में मदद मिलेगी।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

Recommended

Spotlight

Follow Us