लोकसभा चुनाव : देवरिया व कुशीनगर के 1200 बंदी नहीं कर सकेंगे मतदान

Daily Hunt News 15-05-2019 22:46:24

देवरिया। जनपद देवरिया व कुशीनगर के जिला कारागार में बंद विचाराधीन 1200 बंदी लोकसभा चुनाव में मतदान नहीं कर सकेंगे। विचाराधीन बंदियों के समय रहते जमानत नहीं होने से वोट डालने का मामला अधर में लटग गया। मतदान न करने से बंदियों में मायूसी भी है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में देवरिया और कुशीनगर जिले में 19 मई को मतदान होगा। दोनों जिले के अधिकारी चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जागरुकता कार्यक्रम चला रहे हैं। लेकिन जिला कारागार में देवरिया और कुशीनगर के 1403 बंदी बंद है। इसमें 125 सजायाफ्ता कैदी है और 1278 विचाराधीन बंदी है। इसमें 101 महिला बंदी और 1302 पुरुष बंदी है। इसमें 70 अपवयस्क हैं। जिला जेल में 1200 बंदी विचाराधीन बंदी है। जिसमें देवरिया के चार सौ और कुशीनगर के आठ सौ बंदी है। जो अलग अलग मामलों में जिला जेल में बंद है। कुशीनगर जिले में जेल नहीं होने से वहां के भी बंदी यहीं पर बंद है। जो मारपीट, चोरी, हत्या, रेप समेत अन्य मामलों में जिला कारागार में बंद है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

जो अपनी जमानत कराने के लिए काफी दिनों से प्रयास थे। जिला कारागार में रहने के चलते बंदी लोक सभा चुनाव में अपने मताधिकार का उपयोग नहीं कर सकेंगे। जिला कारागार में बंद बंदी ने भरा था लोक सभा उपचुनाव में पर्चा फूलपुर लोक सभा के उपचुनाव में उस समय जिला कारागार में बंद अतीक अहमद ने जिला जेल से पर्चा दाखिल किया था। इस उप चुनाव में अतीक को हार का सामाना करना पड़ा था। उसने जिला कारागार से ही अपने चुनाव का संचालन किया था। इस संबंध में जब जेल अधीक्षक देवरिया केपी त्रिपाठी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जिला कारागार में बंद बंदियों के लिए मतदान नहीं कर सकते हैं। जबकि बेल मिलने पर वह मताधिकार का उपयोग बूथ पर जाकर कर कसते हैं। इस पर लगभग 1200 बंदी मतदान नहीं कर सकेंगे।

 

Recommended

Spotlight

Follow Us