पाक सरकार ने नहीं होने दिया जनमत 2020 का पंजीकरण

Daily Hunt News 4/14/2019 3:42:17 PM

अमृतसर। पाकिस्तान की सरकार ने खालिस्तानी अलगाववादियों पर शिकंजा कसा है। इमरान ख़ान की सरकार ने पाक के गुरुद्वारों में भारत विरोधी खालिस्तानी अलगाववादियों की सरगर्मियों पर पाबंदी लगा दी है। पाकिस्तान सरकार ने यूके की खालिस्तानी संख्या सिख फॉर जस्टिस द्वारा गुरुद्वारा पंजा साहिब में बैसाखी पर्व पर खालिस्तान की स्थापना के लिए शुरू किए जानेवाले सदस्यता अभियान को अनुमति नहीं दी। यहां तक कि गुरुद्वारा साहिब के बाहर संस्था का स्टॉल लगाने की भी इजाजत नहीं दी। सिख फॉर जस्टिस ने 14 अप्रैल से गुरुद्वारा पंजा साहिब में खालिस्तान की स्थापना के लिए सदस्यता अभियान शुरू करने की योजना बनाई थी। 

240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

इससे अलग पाकिस्तान सरकार ने गुरुद्वारा पंजा साहिब में रविवार सुबह दर्शन करने आए सिख श्रद्धालुओं के लिए बेहतर प्रबंध किए थे। विश्व के अलग-अलग हिस्से से हजारों की तादाद में आए सिख श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारा पंजा साहिब सरोवर में स्नान किया। पाकिस्तान सरकार की सख्ती से नाराज अलगाववादियों ने अब इमरान सरकार की आलोचना शुरू कर दी है। इसे लेकर अलगाववादियों की तरफ से पाक सरकार के खिलाफ पोस्टर जारी किया गया है, जिसमें कहा है कि पाक प्रधानमंत्री इमरान ख़ान और सेना प्रमुख बाजवा, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिल गए हैं।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

भारत को लेकर पाकिस्तान का बदला हुआ रुख कहा जायेगा या फिर पाकिस्तान की कोई नई चाल कि उसने अब भारतीय अधिकारियों के पाक गुरुद्वारों में प्रवेश पर लगी अनौपचारिक पाबन्दी उठा ली है। पिछले वर्ष बैसाखी पर्व पर भारतीय अधिकारियों को पाक अधिकारियों की शह पर पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों ने पाक स्थित गुरुद्वारा साहिब में प्रवेश नहीं करने दिया था। यहां तक कि पाक स्थित भारतीय अधिकारियों को भारत से आये लोगों से भी नहीं मिलने दिया गया था। 

Recommended

Spotlight

Follow Us