सावधान: आपकी इन गलतियों की वजह से होती है योनि Vaginal इंफेक्शन, ऐसे केरे बचाव

Daily Hunt News 4/14/2019 1:01:00 AM

डेस्क।  महिलाएं बातें करने की शौकीन होती हैं यह बात तो जगजाहिर है। लेकिन बात जब प्राइवेट पार्ट्स की इंफैक्शन की आए तो यह सब का सीक्रेट मैटर हो जाता है लेकिन यही सीक्रेट बात आगे चल कर कई प्रॉब्लम्स खड़ी कर देती है। आइए जानते है।  

Navratri Recipe : घर पर इस प्रकार बनाए पनीर रोल्स, ये है रेसिपी
यह भी पढ़ें

नार्मल इंफैक्शन 
प्राइवेट पार्ट यानि वेजाइना की सफाई ना रखना सबसे आम कारण है...

जैसे पीरियड्स के दिनों में पैड को समय पर ना बदलना। 

नायलॉन या सिंथेटिक अंडरगारमेंट्स पहनना

हेयर रिमूव ना करना

हार्श साबुन या कैमिकल्स का इस्तेमाल 

इंटरकोर्स के बाद पार्ट की सफाई ना करना

पसीने से रेशेज और खुजली की समस्या

 

बचने के उपाए 
साबुन या हार्श कैमिकल्स प्रॉडक्ट्स से वेजाइना साफ ना करें। गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें। जब भी बाथरूम जाए वेजाइना को टिशू पेपर से साफ कर सुखाएं। कपड़े से वेजाइना साफ करने की गलती ना करें क्योंकि कपड़े में कई तरह के बैक्टीरिया होते हैं। 

वेजाइना खुद को बैक्‍टीरिया और इंफेक्शन से बचाने के लिए एक उचित तापमान, पीएच और नमी को बनाए रखने में मदद करती है लेकिन कठोर साबुन या केमिकल युक्‍त प्रोडक्‍ट के इस्‍तेमाल से काफी बदल सकता है इसलिए वेजाइना को साफ करने के लिए केमिकल युक्त प्रोडक्‍ट का इस्‍तेमाल न करें बल्कि अच्छे इंटीमेंट वॉश का इस्तेमाल करें।

वेजाइना वाश, पाउडर या वेजाइना के डीओ या परफ्यूम से बचे क्योंकि यह शरीर के अंदर जाकर नुकसान पहुंचाते हैं। कई बार प्राइवेट पार्ट से अजीब सी गंध आने लगती है।

वेजाइना हेयर रैगुलर रिमूव करते रहे नहीं तो रेशेज व खुजली जैसी समस्या होगी। खासकर गर्मियों में इन बातों का ज्यादा ध्यान दें।

पीरियड्स में सेनेटरी नैपकिन को हर 5 से 7 घंटे में बदलना चाहिए। 

कॉटन के अंडरगार्मेंट्स का इस्तेमाल करें और रोजाना बदलें। धोने के बाद इसे धूप में सुखाएं।


इंटरकोर्स के बाद होने वाली बीमारियां बहुत आम हैं, जिन्हें STI कहते हैं यानी सेक्सुअली-ट्रांसमिटेड इंफेक्शंस। इस प्रॉब्लम्स की चपेट में आने के बाद आपको डॉक्टर के पास जाना ही पड़ेगा लेकिन इस इंफेक्शन से बचने के लिए आप पहले ही कुछ टिप्स फॉलो कर सकती हैं। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

STI इंफैक्शन सिर्फ वजाइना में ही नहीं होती। इसका असर मुंह और शरीर के बाकी अंगों पर भी पड़ता है क्योंकि ओरल सेक्स करते समय बैक्टीरिया इधर के उधर होते हैं। इन इंफेक्शन्स को आप डेंटल डैम शीट से रोक सकते हैं। इस्तेमाल एक लेयर बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा कंडोम का इस्तेमाल भी जरूरी है ताकि वेजाइनल इंफेक्शन से बचा जा सके। 

ल्यूब भी रोके इंफेक्शन
बता दें कि ल्यूब एक ऐसा प्रॉडक्ट है जिसकी वजह से इंटरकोर्स के दौरान वेजाइन को दर्द व चोट से बचाया जासकता है। इसकी वजह से हर्पीज़ जैसी बीमारियां हो जाती हैं। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

खुद का ध्यान रखिए

यह कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप दिनभर में कितनी बार खुद को साफ करती हैं। गुनगुने पानी से वेजाइना साफ करें। तेज धार वाले पीना से इंफेक्शन का खतरा रहता है। इससे स्किन छिल सकती है। वेक्सिंग औऱ शेविंग करने के बाद इंटरकोर्स ना करें। कम से कम 1 से 2 दिन का समय डालें।

ओरल सेक्स के बाद माउथवॉश का इस्तेमाल करिए। ब्रश ना करें क्योंकि उससे इंफेक्शन आपके खाने की नली में जा सकता है। 

Recommended

Spotlight

Follow Us