बोइंग कंपनी ने राष्ट्रपति ट्रंप से मांगा सहयोग

Daily Hunt News 3/13/2019 1:17:24 PM

लॉस एंजेल्स। इथोपिया हादसे के बाद बोइंग 737 मैक्स 8 मॉडल के विमानों को लेकर दुनियाभर में आक्रोश फैलता जा रहा है। बोइंग कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेनिस मलेनवर्ग ने मंगलवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से बातचीत कर अपनी स्थिति स्पष्ट की है और उनसे सहयोग मांगा है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

कंपनी ने करोड़ों डॉलर ख़र्च कर लाबिंग टीमें बनाई हैं, जो यह दावा कर रही हैं कि विमान उड़ान भरने और गंतव्य स्थान तक आने-जाने में पूरी तरह सक्षम है। अमेरिका की सबसे बड़ी एयरलाइनों में अमेरिकी एयरलाइन और साउथ वेस्ट एयरलाइन को छोड़कर विश्व के दो तिहाई देशों ने इस विमान की सेवाएं रद्द कर इसे ज़मीन पर ला खड़ा किया है।

बोइंग कंपनी की ओर से दावा किया जा रहा है कि विमान में डिजिटल सेवाएं इतनी जोड़ दी गई हैं कि इसे मानव रहित भी चलाया जा सकता है। इसके बावजूद सीनेट में नागर विमानन सेवा समिति के अध्यक्ष रिपब्लिकन सिनेटर ट्रेड क्रूज कंपनी का कोई भी तर्क सुनने से ही इनकार किया है। 

उन्होंने कहा कि जब तक अमेरिकी संघीय विमान अथारिटी पूरी जांच कर रिपोर्ट नहीं देती है, बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों को उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। उन्होंने संकेत दिया है कि वह इस मामले में सुनवाई करने की योजना बना रहे हैं। अमेरिकी ट्रांसपोर्ट सचिव एलन छाओ ने कहा कि विमान में कोई तकनीकी कमी पायी जाती है तो फिर ख़ैर नहीं है। 

एक ऐसी अनोखी शादी जिसमें दुल्हन ने दूल्हे को पहनाई...
यह भी पढ़ें

उल्लेखनीय है कि इथोपिया विमान हादसे के बाद भारत समेत 45 देशों ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों पर रोक लगा दी है। इन देशों में 28 यूरोप के हैं। भारत में जेट एयरवेज और स्पाइस जेट के पास इस मॉडल के कुल 17 विमान हैं। 

अफ्रीकी देश इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा में रविवार को हुए विमान हादसे में 157 यात्रियों की मौत हो गई थी। मृतकों में चार भारतीय भी थे। इससे पहले, अक्टूबर 2018 में इंडोनेशिया में भी बोइंग विमान हादसे का शिकार हुआ था, जिसमें 189 लोगों की मौत हुई थी। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

हादसे का शिकार हो रहे बोइंग विमानों पर प्रतिबंध लगाने की मांग लगातार उठ रही थी। यही वजह है कि यात्री सुरक्षा के मद्देनजर भारत में नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा बोइंग विमानों पर तुरंत बैन लगाने का फैसला किया गया है। 

Recommended

Spotlight

Follow Us