सरकार किसानों के साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार कर रही : संजय सिंह

Daily Hunt News 30-11-2020 09:07:19

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने किसानों के आंदोलन को लेकर भाजपा पर गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसानों के साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार कर रही है।सिंह ने कहा कि देश के किसान अपनी फसल की कीमत और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने की मांग कर रहे हैं और केंद्र की भाजपा सरकार उनके साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार कर रही है।

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने रविवार को किसान आंदोलन को लेकर पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। संजय सिंह ने कहा कि इस वक्त देश का लाखों किसान आंदोलनरत है। पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश का किसान लाखों की संख्या में दिल्ली की सीमा पर बैठा हुआ है, और इस बात का इंतजार कर रहा है कि केंद्र सरकार उनसे बातचीत करेगी, उनकी समस्याओं का समाधान करेगी। उन्होंने कहा कि किसानों का गुनाह यह है कि वह अपनी फसल का डेढ़ गुना दाम मांग रहे हैं, उनका गुनाह यह है कि वह स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू कराना चाहते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा उनके साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार कर रही है। उनको लाठियों से पीटा जा रहा है। उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे हैं। इस कड़ाके की ठंड में उन पर पानी की बौछारें छोड़ी जा रही हैं। 

उन्होंने कहा कि इतनी दुश्वारियां झेलने के बाद जब वह लोग दिल्ली की सीमा पर पहुंच गए तो कल हमारे गृहमंत्री अमित शाह प्रकट हो गए। प्रकट होना इसलिए कह रहा हूं, क्योंकि उस वक्त गहरी नींद सो रहे थे, जब किसानों पर आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे थे। आंखों पर पट्टी बांध रखी थी। उनको किसानों की पीड़ा दिखाई नहीं दे रही थी। कल वह प्रकट हुए और उन्होंने कहा कि आप बुराड़ी ग्राउंड में बैठ जाइए, तब हम आपसे बात करेंगे। सिंह ने कहा कि गृहमंत्री उनके सामने शर्त रख रहे हैं। गृहमंत्री कह रहे हैं कि पहले बुराड़ी आओ फिर हम बात करेंगे।

संजय सिंह ने आगे कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और हमारी सरकार पूरी तरह से किसानों के साथ खड़ी है। उनके आंदोलन में, उनकी मांगों के साथ खड़ी है। हम दिल्ली में उनका स्वागत करते हैं, लेकिन किसान जहां पर आंदोलन करना चाहते हैं, गृहमंत्री अमित शाह आपको उनको आंदोलन करने की वहां पर ही जगह देनी चाहिए। यह कोरोना का बहाना मत बनाइए। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि आपके लिए कोरोना दिल्ली में होता है, लेकिन हैदराबाद में नहीं होता। जहां पर प्रधानमंत्री कोरोना की वैक्सीन देखने जा रहे हैं। आप हैदराबाद में जाकर हजारों लोगों की यात्रा कर रहे हैं तब कोरोना नहीं होता। 

यह खबर भी पढ़े: प्रदेश का पहला विशालकाय मछली नुमा फिश एक्वेरियम जल्द होगा कोरिया में, वाटर टूरिज्म को बढ़ावा देने झुमका बांध में हो रही बोटिंग

Recommended

Spotlight

Follow Us