गृह मंत्रालय ने कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए दिए निर्देश का अब दिखने लगा असर

Daily Hunt News 21-11-2020 14:49:00

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए जो निर्देश दिए हैं उसका असर दिखने लगा है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बाद आईसीएमआर ने आरटी-पीसीआर टेस्टिंग की क्षमता 27,000 प्रतिदिन से बढ़ाकर 37,200 कर दी है। दिल्ली में 19 नवम्बर को 30,735 सैंपल एकत्रित किए गए, जबकि इसके पहले 15 नवम्बर को यह संख्या 12,055 थी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने शनिवार को ट्वीट कर यह जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली सरकार ने घर-घर सर्वे शुरू कर दिया है। इसके साथ ही दिल्ली स्थित केंद्र सरकार के अस्पताल, दिल्ली सरकार के अस्पताल और निजी अस्पतालों में 205 आईसीयू बेड और बढ़ाए गए हैं।

प्रवक्ता ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय व दिल्ली सरकार के मंत्रियों के साथ हुई बैठक में जो निर्देश दिए थे उसके बाद कोरोना के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए दिल्ली में चिकित्सा के बुनियादी ढ़ांचे को रैंप पर लाने का काम तेजी से किया जा रहा है। इसके तहत अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और केंद्रीय अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुविधायुक्त 116 बेड और बढ़ाए गए हैं। बीईएल के 125 वेंटिलेटर दिल्ली पहुंच गए हैं।

प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने निजी अस्पतालों का सर्वेक्षण उसी तर्ज पर करने का निर्देश जारी किया है, जैसा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा गठित बहु-विषयक टीमों द्वारा किया जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: यात्रीगण कृपया ध्यान दें ! छपरा जंक्शन के रास्ते चलने वाली छह ट्रेनों का परिचालन निरस्त

Recommended

Spotlight

Follow Us