Bihar Election: आप खुद तय कीजिए, गुंडाराज चाहिए या राशन और सुशासन वाली सरकार- जेपी नड्डा

Daily Hunt News 31-10-2020 22:50:00

पटना। बिहार में विधान सभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए प्रचार चरम पर है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को कई स्थानों पर पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में जनसभा कर समर्थन मांगा। हाजीपुर में रोड शो किया तो सोनपुर के दिघवारा और सीवान में सभा को संबोधित किया। 

नड्डा ने विपक्षी गठबंधन में शामिल दलों का मतलब समझाते हुए बताया कि राजद का मतलब अराजकता, माले का मतलब विध्वंस और कांग्रेस पार्टी देश विरोधी है। कांग्रेस का तो लटकाना, अटकाना और भटकाना से पुराना याराना है। तेल पिलावन, डंडा भजावन वाले लोगों ने पहले भी कुछ नहीं किया और आगे भी मौका मिलने पर कुछ नहीं करेंगे। नड्डा ने कहा कि बिहार में विकास की गति सिर्फ एनडीए की सरकार में ही बढ़ सकती है। जंगलराज में आप विकास का काम भूल जाइए। अब आप पर निर्भर करता है कि आप किसकी सरकार को चुनना पसंद करते हैं। बिहार में फिर से लालटेन का राज चाहिए या एलईडी। बिहार में आपको कानून राज चाहिए या गुंडाराज। आप बाहुबली चाहते हैं या फिर ऐसी सरकार जो आपको राशन और सुशासन दे। अब आपको तय करना है कि इस राज्य को आप किस ओर ले जाना चाहते हैं। मैं खुद बिहार का हूं और मुझे पता है कि 15 साल पहले इस राज्य में क्या होता था। शाम में घर से बाहर निकलने की पहले किसी की हिम्मत नहीं होती थी लेकिन अब आपको ये सब महसूस नहीं होता होगा।

भाजपाध्यक्ष ने राजद नेता तेजस्वी यादव के वादों पर बगैर नाम लिये कहा कि चुनाव हार जाना मंजूर है लेकिन गलत आश्वासन नहीं देंगे। भाजपा ने जब भी घोषणा की है तो उसे लागू किया। झूठे वादे करने वालों को पहचानने की जरूरत है। कुछ लोग चुनाव के समय वादा करते हैं और भूल जाते हैं। बिहार से लोगों को पलायन करने को मजबूर करने वाले रोजगार देने का सपना दिखा रहे हैं। इसलिए बिहार की तरक्की के लिए एनडीए के पक्ष में मतदान करें। एनडीए की जीत किसी व्यक्ति की जीत नहीं बल्कि बिहार की जीत होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में तेजी से विकास हुआ, आगे भी होगा।

पहले सीवान में एक बड़ा अपराधी हुआ करता था, अब जेल में है
नड्डा ने शहाबुदद्दीन का नाम लिये बगैर कहा कि पहले सीवान में एक बड़ा अपराधी हुआ करता था, जिसने दो भाइयों की हत्या करवा दी। जब उसके खिलाफ गवाही देने उनके भाई पहुंचे तो उनकी भी हत्या करा दी। लालू यादव के राज में वो खुलेआम घूमा करता था लेकिन जब नीतीश की सरकार आई तो पहले उसे बिहार के जेल में भेजा गया, फिर तिहाड़।

लालू यादव और कांग्रेस ने डाली बाधा, मोदी ने शुरू कराया राम मंदिर निर्माण
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जब लाल कृष्ण आडवाणी की राम रथयात्रा निकली थी, तो यहीं बिहार की धरती पर लालू यादव ने रामरथ को रोका था। राम मंदिर के मामले में एक पक्ष के वकील कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में इस मामले को लटकाने का प्रयास किया। हालांकि देश के सभी लोग चाहते थे कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बने। केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार के दोबारा आने पर इस विषय की न्यायालय में प्रतिदिन सुनवाई हुई और फैसला आने के बाद अयोध्या में श्रीराम जन्म भूमि पर श्रीराम मंदिर का निर्माण शुरू करवाया।  

पुलवामा हमले को पाकिस्तान ने स्वीकारा और राहुल सबूत मांगते थे
भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पुलवामा हमला में हमारे 40 जवान शहीद हुए थे और राहुल गांधी पाकिस्तान के वकील बन गए थे। कांग्रेस और राहुल गांधी इस बारे में पहले सबूत मांग रहे थे। अब पाकिस्तान का हाथ होने की बात पड़ोसी देश के मंत्री ने स्वीकार तो सब चुप हैं।

इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र में राहुल गांधी के बयान को उद्धृत किया था
राहुल गांधी पर तंज करते हुए नड्डा ने कहा कि कश्मीर से चुटकी में हमने अनुच्छेद 370 हटाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान के लोगों के सपना को पूरा किया तो राहुल पाकिस्तान की भाषा बोल रहे थे। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र में राहुल गांधी के बयान को उद्धृत किया था। अब ये आपको तय करना है कि आप किसे बिहार में चुनते हैं।

राजीव गांधी फाउंडेशन के चीन से पैसे लेने पर आज तक मां-बेटे ने कोई जवाब नहीं दिया
नड्डा ने कहा कि राहुल गांधी दिन-रात चीन की बात करते हैं लेकिन राजीव गांधी फाउंडेशन के लिए चीन से पैसा लेकर वह राष्ट्रभक्त बन रहे हैं। मैंने आरोप लगाया कि राजीव गांधी फाउंडेशन ने चीन से जो पैसे लिये, उसका जवाब दो, आज तक मां-बेटे ने कोई जवाब नहीं दिया।

यह खबर भी पढ़े: VIDEO: पाकिस्तान में 13 वर्षीय ईसाई लड़की आरज़ू रज़ा का अपहरण करके जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवाया

यह खबर भी पढ़े: पाकिस्तान: अयाज सादिक ने फिर कहा, अभिनंदन को छोड़े जाने वाले बयान पर मैं अब भी कायम

Recommended

Spotlight

Follow Us