कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ फ्रांस का महायुद्ध आरम्भ, इन महाशक्तियों का मिला साथ

Daily Hunt News 30-10-2020 12:35:13

डेस्क। फ्रांस के नीस शहर में एक चर्च के बाहर दो महिलाओं समेत तीन लोगों की हत्या से पूरे देश में आक्रोश है। फ्रांस ने इसे आतंकी घटना करार दिया है। इसी बीच इस्लामिक आतंकवाद के मुद्दे पर फ्रांस को भारत, अमेरिका और यूरोपीय संघ जैसी बड़ी महाशक्तियों का साथ मिला है। जिससे इस मुद्दे पर आगे टकराव तेज होने की आशंका बढ़ गई है।

जानकारी के अनुसार यूएई के विदेश मंत्रालय ने आतंकवाद के खिलाफ इन आपराधिक कृत्यों की कड़ी निंदा करते हुए बयान जारी किया है। मंत्रालय ने कहा कि वह हिंसा के सभी रूपों को स्थायी रूप से खारिज करता है।  

वहीं ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने इस घातक चाकू हमले की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है, हम नीस शहर में हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हैं।

ईरान, यूएई के अलावा इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने भी हमले की निंदा की। उन्होंने ट्वीट करके सभी सभ्य देशों को फ्रांस के साथ पूर्ण एकजुटता के साथ खड़े होने की बात कही।

इसी बीच इस्लामिक आतंक के खिलाफ फ्रांस को भारत, अमेरिका और यूरोपीय संघ जैसी बड़ी महाशक्तियों का साथ मिला है। पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा, 'मैं आज नीस में चर्च के भीतर हुए नृशंस हमले समेत फ्रांस में हुए हालिया आतंकी हमलों की कड़ी निंदा करता हूं। पीड़ितों के परिवार वालों और फ्रांस के लोगों के साथ हमारी संवेदना। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत फ्रांस के साथ है। 

साथ ही दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फ्रांस को समर्थन दिया और कहा कि अमेरिका इस लड़ाई में अपने सबसे पुराने सहयोगी के साथ खड़ा है।

ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि हमारा दिल फ्रांस के लोगों के साथ है। अमेरिका इस लड़ाई में अपने सबसे पुराने सहयोगी के साथ खड़ा है। इन कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवादी हमलों को तुरंत रोक देना चाहिए।

उलेखनिए है, कुछ इस्लामिक देश और संगठनों ने फ्रांस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। क्योंकि फ्रांस सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए कुछ मस्जिदों को बंद कर दिया है। इसे लेकर कई मुस्लिस देशों में नाराजगी सामने आई है। लेकिन यूएई जैसे इस्लामिक देश का फ्रांस को समर्थन मिलना बड़ी बात माना जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: PM मोदी बोले- देश के हर नागरिक को फ्री में मिलेगी कोरोना की दवा, कोई भी नहीं इससे...

यह खबर भी पढ़े: ICMR का दावा: कोरोना संक्रमण के खिलाफ भारत में बीसीजी वैक्सीन आएगी काम, बुजुर्गों के लिए भी है असरदार

Recommended

Spotlight

Follow Us