बेंगलुरु के वायु सेना कमांड अस्पताल को किया सर्वश्रेष्ठ घोषित, रक्षा मंत्री ट्रॉफी से नवाजा

Daily Hunt News 17-10-2020 22:50:00

नई दिल्ली। सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा के लिए बेंगलुरु के वायु सेना कमांड अस्पताल को सर्वश्रेष्ठ और सेना की पूर्वी कमान, कोलकाता के कमांड अस्पताल को दूसरे नम्बर पर सर्वश्रेष्ठ आंका गया है। वर्ष 2019 के लिए दोनों कमांड अस्पतालों को 'रक्षा मंत्री ट्रॉफी' से नवाजा गया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को दोनों कमांड अस्पतालों को ट्राफियां देकर सम्मानित किया। पुरस्कार समारोह में रक्षा सचिव समेत वरिष्ठ सेवा और नागरिक गण्यमान्य व्यक्ति भी शामिल हुए।  

रक्षा मंत्री ने इस अवसर पर कहा कि अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन के दम पर दोनों अस्पतालों ने सशस्त्र बलों को सराहनीय चिकित्सा सेवाएं मुहैया कराईं। सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा के दोनों अस्पतालों ने युद्धक चिकित्सा सहायता से लेकर सैन्य भूमिकाओं में तैनात सैन्य टुकड़ियों तक, मध्य-जोनल, ज़ोनल और तृतीयक देखभाल केंद्रों तक स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतरीन प्रदर्शन किया। सशस्त्र बल चिकित्सा सेवाएं के महानिदेशक और आर्मी मेडिकल कोर के सीनियर कर्नल कमान्डेंट लेफ्टिनेंट जनरल अनूप बनर्जी ने इस अवसर पर सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा की व्यावसायिक उत्कृष्टता के लिए हर समय प्रयास करने के लिए दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराया। उन्होंने ऑपरेशन और शांतिकाल में मानवीय सहायता और आपदा राहत के समय चिकित्सा सहायता प्रदान करने में सभी चुनौतियों को पूरा करने के लिए सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा की तैयारियों पर जोर दिया। 

सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा के कमांड हॉस्पिटल्स की स्वास्थ्य सेवाओं में उत्कृष्टता पहचानने और उनके बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना को बढ़ावा देने के लिए 1989 में 'रक्षा मंत्री ट्रॉफी' की शुरुआत की गई थी। इसके लिए लेफ्टिनेंट जनरल समकक्ष एक सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा अधिकारी की अध्यक्षता में एक चयन समिति का गठन किया गया है। यही समिति अस्पतालों में जाकर किये गए मूल्यांकन के आधार पर व्यापक चयन प्रक्रिया के माध्यम से प्रत्येक वर्ष पुरस्कार के लिए अस्पतालों के नामों की सिफारिश करती है।

यह खबर भी पढ़े: हाथरस गैंगरेप पीड़ित लड़की की जगह दूसरी महिला का फोटो दिखाने पर हाई कोर्ट सख्त, जल्द कार्रवाई करने का निर्देश

यह खबर भी पढ़े: यौन शोषण के आरोपित को पीड़ित लड़की से राखी बंधवाकर जमानत देने का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

Recommended

Spotlight

Follow Us