बिहार विधानसभा चुनाव: भाजपा नेताओं के समझाने पर भी नहीं माने चिराग पासवान

Daily Hunt News 17-10-2020 22:45:00

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा के अलग चुनाव लड़ने के फैसले से भाजपा की बेचैनी बढ़ती जा रही है। भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं के बाद अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी कहा है कि बिहार चुनाव में गठबंधन से अलग होने का फैसला चिराग पासवान ने खुद लिया था। अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने चिराग पासवान को समझाने की कोशिश की लेकिन चिराग नहीं माने।

एक टीवी चैनल से बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि बिहार में अगर एनडीए एक साथ चुनाव नहीं लड़ रहा है तो इसके लिए चिराग पासवान जिम्मेवार हैं। चिराग पासवान लगातार नीतीश कुमार के खिलाफ बयान दे रहे थे। इससे बात बिगड़ी। भाजपा ने चिराग को समझाने की कोशिश भी की लेकिन वे नहीं माने। इसके कारण ही बिहार में एनडीए का स्वरूप बदल गया है। अमित शाह ने कहा कि भाजपा बिहार में नीतीश कुमार को ही मुख्यमंत्री बनायेगी। चुनाव में चाहे भाजपा को कितनी भी सीट आये, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बनेंगे।

अमित शाह ने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार में बहुत काम किया है। बिहार में जदयू-भाजपा और इस गठबंधन के साथी दल मिलकर तीन-चौथाई सीटें जीतने जा रहें है। कल से लेकर आज तक दिल्ली में बैठे भाजपा नेताओं ने चिराग पासवान पर ताबड़तोड़ हमले किये हैं। शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी चिराग पासवान को वोटकटवा करार दिया था। आज अमित शाह खुद मैदान में उतरे हैं।

यह खबर भी पढ़े: आतंकवाद की दुनिया से लौटने वालों का होगा 'पुनर्वास', सरकार से हरी झंडी का इन्तजार

यह खबर भी पढ़े: बोनस नहीं मिला तो 22 अक्टूबर को देश भर में रेल का चक्का जाम करेंगे रेलकर्मी

Recommended

Spotlight

Follow Us