नवाज शरीफ को ब्रिटेन से वापस लाने का प्रयास तेज करेगी PAK सरकार, इमरान खान ने अधिकारियों को दिए ये आदेश

Daily Hunt News 01-10-2020 18:39:54

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बार फिर इशारों ही इशारों में देश की ताकतवर फौज पर निशाना साधा। नवाज ने बुधवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत की। इस दौरान कहा कि देश की संसद और सरकार को कोई तीसरी ताकत चला रही है। नवाज का इशारा साफ तौर पर फौज की तरफ था। कुछ दिन पहले उन्होंने पार्टी नेताओं से कहा था कि वे आर्मी अफसरों से कोई मुलाकात न करें। वहीं, पाकिस्तान सरकार ने नवाज शरीफ को ब्रिटेन से वापस लाने के प्रयास तेज कर दिए है। 

पाकिस्तान सरकार के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अधिकारियों से कहा कि है कि वे पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख नवाज शरीफ को ब्रिटेन से वापस लाने के लिए कदम उठाएं और सुनिश्चित करें कि वह देश के विभिन्न अदालतों में चल रहे भ्रष्टाचार के मामलों का सामना करें। 

 Imran Khan

गौरतलब है कि नवाज शरीफ नवंबर 2019 से चिकित्सा कारणों से लंदन में हैं। सूत्रों के मुताबिक मंगलवार को मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया कि नवाज शरीफ को ब्रिटेन से वापस लाने के प्रयास तेज किये जाए। 

सूत्रों के मुताबिक इमरान खान ने अधिकारियों से मामले में तेजी से कार्रवाई करने को कहा। कैबिनेट सदस्य के मुताबिक पाकिस्तान सरकार ने ब्रिटेन सरकार को पीएमएल-एन नेता शरीफ को वापस भेजने के लिए अनुरोध किया है। हालांकि, अब वह नये सिरे से दोबारा आवेदन भेजेगी।

 Imran Khan

उन्होंने बताया कि सामान्य आवेदन के साथ, उनके प्रत्यर्पण के लिए औपचारिक अनुरोध भी किया जाएगा। ''ब्रिटेन के साथ पाकिस्तान की कोई प्रत्यर्पण संधि नहीं है, लेकिन वांछित लोगों को विशेष व्यवस्था के तहत वापस लाया जा सकता है, जैसे पहले हमने कुछ लोगों को ब्रिटेन को सौंपा था। इस बीच, इस्लमाबाद उच्च न्यायालय ने बुधवार को कहा कि यह जानने की जरूरत है कि क्या शरीफ जानबूझकर अदालत की कार्यवाही से बच रहे हैं।

यह खबर भी पढ़े: हाथरस प्रकरण : पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं- एडीजी प्रशांत कुमार

यह खबर भी पढ़े: हाथरस: पीड़ित परिवार के जारी पत्र पर समाजवादी पार्टी के नेता बोले शासन-प्रशासन दबाव बनाकर कुछ भी लिखवा सकता है

 

Recommended

Spotlight

Follow Us