निजीकरण के विरोध में 19 सितम्बर तक जनजागरण अभियान चलाएंगे रेल कर्मी

Daily Hunt News 16-09-2020 12:30:53

लखनऊ। रेलवे कर्मचारियों ने रेल निजीकरण, निगमीकरण और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ जनजागरण अभियान शुरू कर दिया है। यह अभियान राजधानी लखनऊ में अब 19 सितम्बर तक क्रमवार चलेगा। 

उत्तर रेलवे मजदूर यूनियन के मंडल मंत्री आरके पांडेय ने बुधवार को बताया कि रेल निजीकरण, निगमीकरण और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ कर्मचारियों ने जनजागरण अभियान शुरू कर दिया गया है। यह अभियान लखनऊ के विभिन्न स्थानों पर अब 19 सितम्बर तक क्रमवार चलता रहेगा। 

उन्होंने कहा कि रेल मंत्रालय कर्मियों के इच्छा के विपरीत निगमीकरण, निजीकरण जैसी योजनाओं को लगातार आगे बढ़ा रहा है। इससे केंद्र सरकार की मंशा साफ हो गई है की वह कर्मचारियों के विपरीत है।

मंडल मंत्री ने बताया की ऑल इंडिया रेलवे फेडरेशन के आह्वान पर 19 सितम्बर को शाम 08 बजे रेल कर्मचारी अपने घरों की बिजली 10 मिनट के लिए बंद करके विरोध जताएंगे। 17 सितम्बर को रेल निजीकरण के विरोध में रेलवे काॅलोनियों में दो पहिया वाहन रैली निकाली जाएगी।18 सितम्बर को रेलवे कॉलोनियों में निजीकरण के विरोध में मशाल जुलूस निकाल कर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा प्रबुद्ध लोगों और विशेषज्ञों के साथ रेल निजीकरण के बारे में वेबीनार के जरिए भी चर्चा की जाएगी।

यह खबर भी पढ़े: लद्दाख के बर्फीले पहाड़ों पर 'जमने' की तैयारी में लगे भारतीय सैनिक, प्रति माह खर्च होंगे 8,000 करोड़ रुपये

यह खबर भी पढ़े: अब पहले से अधिक एक्टिव होगा बिहार सरकार का संजीवन ऐप, मिलेगी ये सुविधाएं

 

Recommended

Spotlight

Follow Us