जया बच्चन के बयान से खुश हुई शिवसेना, सामना ने तारीफ में लिखा- आप बेबाकी और सच बोलने के लिए प्रसिद्ध हैं

Daily Hunt News 16-09-2020 10:06:07

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने राज्यसभा में कहा कि सिनेमा उद्योग एक बुरे दौर से गुजर रहा है। उन्होंने सरकार पर सिनेमा उद्योग की ओर ध्यान न देने का आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ लोग हालत से ध्यान भटकाने के लिए उल्टे-सीधे बयान दे रहे हैं। जया बच्चन ने सदन में शून्यकाल की कार्यवाही के दौरान इस मुद्दे को उठाते हए कहा कि सिनेमा उद्योग की वजह से नाम कमाने वाले कुछ लोग इसे 'गटर' की संज्ञा दे रहे हैं। बच्चन ने सदन में अपनी बात रखते हुए कहा कि कुछ लोग सोशल मीडिया के जरिए असल मुद्दों से ध्यान भटकाने में लगे हैं। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि कुछ लोग जिस थाली में खाते रहे हैं उसी में छेद कर रहे हैं।

जया बच्चन के संसद में दिए गए बयान से शिवसेना खुश नजर आ रही है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र के संपादकीय में जया बच्चन की तारीफ की है और कहा है कि वह अपने बेबाकी और सच बोलने के लिए प्रसिद्ध हैं। बुधवार को शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा, 'हिन्दुस्तान का सिनेजगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा दावा कोई नहीं करेगा। मगर जैसा कि कुछ टीनपाट कलाकार दावा करते हैं कि सिनेजगत ‘गटर’ है, ऐसा भी नहीं कहा जा सकता। जया बच्चन ने संसद में इसी पीड़ा को व्यक्त किया है। ‘जिन लोगों ने सिनेमा जगत से नाम-पैसा सब कुछ कमाया। वे अब इस क्षेत्र को गटर की उपमा दे रहे हैं। मैं इससे सहमत नहीं हूं।’ 

जया बच्चन के ये विचार जितने महत्वपूर्ण हैं, उतने ही बेबाक भी हैं। ये लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं। ऐसे लोगों पर जया बच्चन ने हमला किया है। जया बच्चन सच बोलने और अपनी बेबाकी के लिए प्रसिद्ध हैं। जया बच्चन ने अपने राजनीतिक और सामाजिक विचारों को कभी छुपाकर नहीं रखा। महिलाओं पर अत्याचार के संदर्भ में उन्होंने संसद में बहुत भावुक होकर आवाज उठाई है। ऐसे वक्त जब सिनेजगत की बदनामी और धुलाई शुरू है, अक्सर तांडव करने वाले अच्छे-खासे पांडव भी जुबान बंद किए बैठे हुए हैं। मानो वे किसी अज्ञात आतंकवाद के साए में जी रहे हैं और कोई उन्हें उनके व्यवहार और बोलने के लिए पर्दे के पीछे से नियंत्रित कर रहा है। ऐसे में जया बच्चन की बिजली कड़कड़ाई है।

शिवसेना ने आगे कहा, मनोरंजन जगत में जब ‘लाइट, कैमरा, एक्शन’ बंद है, लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से हटाने के लिए हमें (मतलब बॉलीवुड को) सोशल मीडिया पर बदनाम किया जा रहा है। ऐसा जया बच्चन ने कहा है। कुछ अभिनेता-अभिनेत्रियां ही पूरा बॉलीवुड नहीं है। लेकिन उनमें से कुछ लोग जो अनियंत्रित वक्तव्य दे रहे हैं, यह सब घृणास्पद है। सिनेजगत के छोटे-बड़े हर कलाकार या तकनीशियन मानो ‘ड्रग्स’ के जाल में अटके हुए हैं, 24 घंटे वे गांजा और चिलम पीते हुए दिन बिता रहे हैं, ऐसा बयान देनेवालों की ‘डोपिंग’ टेस्ट होनी चाहिए, क्योंकि इनमें से बहुतों के खाने के और तथा दिखाने के और दांत हैं।' 

अमिताभ बच्चन, राजेश खन्ना, धर्मेंद्र, जीतेंद्र, देव आनंद, पूरा कपूर खानदान, वैजयंती माला से लेकर हेमा मालिनी और माधुरी दीक्षित से लेकर ऐश्वर्या राय तक, एक से एक बढ़िया कलाकारों ने यहां योगदान दिया है। बॉक्स ऑफिस को हमेशा चलायमान रखने के लिए आमिर, शाहरुख और सलमान जैसे ‘खान’ लोगों की भी मदद हुई ही है। ये सारे लोग सिर्फ गटर में लेटते थे और ड्रग्स लेते थे, ऐसा दावा कोई कर रहा होगा तो ऐसी बकवास करनेवालों का मुंह पहले सूंघना चाहिए। खुद गंदगी खाकर दूसरों के मुंह को गंदा बताने का काम चल रहा है। इस विकृति पर ही जया बच्चन ने हमला किया है।'

यह खबर भी पढ़े: OMG! सुपरस्टार महेश बाबू की फिल्म 'सरकारू वारी पाटा' में हुई इस बॉलीवुड एक्टर की धांसू एंट्री

Recommended

Spotlight

Follow Us