चीन के साथ शांति की सारी वार्ताएं बेकार, LAC पर लगातार कर रहा है भारतीय सेना को उकसाने वाला काम

Daily Hunt News 16-09-2020 04:23:00

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव अपने चरम पर है। हाल ही में दोनों देशों ने एक-दूसरे पर टकराव के दौरान हवा में गोलियां चलाने का आरोप लगाया था। LAC पर 45 साल बाद ऐसा हुआ है जब किसी भी पक्ष की तरफ से गोलियां चलाई गईं हों। विदेश मंत्री स्तर की वार्ता के बाद भी भारत और चीन के बीच संबंधों को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है। 

सीमा पर उत्पन्न हुई जटिल स्थिति किस तरह से खत्म होगी, इसका फिलहाल कोई स्पष्ट खाका नजर नहीं आ रहा है। दोनों विदेश मंत्रियों की बातचीत दस सितंबर को मॉस्को में हुई थी। वार्ता के बाद अब तक वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर स्थिति अपरिवर्तनीय बनी हुई है। 

Indo-China border dispute

हालांकि, सरकार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि वार्ता के बाद से एलएसी पर शांति बनी हुई है। चीनी सैनिकों द्वारा कोई बड़ा मूवमेंट नहीं देखा गया है। चीनी सैनिकों ने अपना निर्माण और सैनिकों की तैनाती में भी कोई बदलाव नहीं किया है।

पिछले दिनों ब्रिगेड कमांडरों की बैठक में दोनों देशों के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की बैठक करने पर सहमति बनी थी। इस हफ्ते बैठक होने की संभावना है। यह माना जा रहा था कि सोमवार को बैठक की तारीख और मुद्दे तय हो जाएंगे, लेकिन देर शाम तक इस मामले में कोई प्रगति नहीं हुई। 

Indo-China border dispute

सूत्रों के मुताबिक फिलहाल शांति बनी रहे और सारे मुद्दों को बातचीत के जरिए हल किया जाए, यही प्राथमिकता है। जब कमांडर लेवल की बातचीत होगी तब सहमति के मुताबिक चीनी सेनाओं के पीछे हटने की प्रक्रिया पर उनका रुख स्पष्ट होगा।

यह खबर भी पढ़े: भारत-चीन तनाव पर संसद में आज आ सकता है रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बयान

यह खबर भी पढ़े: CM योगी ने बदला आगरा म्यूजियम का नाम, अब से छत्रपति शिवाजी के नाम पर होगा बदला हुआ नाम

 

Recommended

Spotlight

Follow Us