UP: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6895 नए मरीज दर्ज, अब तक 4606 लोगों की मौत

Daily Hunt News 15-09-2020 19:18:16

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अब बढ़कर 67,335 हो गई है। राज्य में पिछले चौबीस घंटे में 6,680 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए। वहीं अब तक कुल 2,52,097 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। पिछले चौबीस घंटे में संक्रमण के 6,895 नए मामले सामने आए हैं। जबकि संक्रमण के बाद कुल मौतों की संख्या 4,606 पहुंच गई है।

अब तक 76.84 लाख कोरोना नमूनों की हुई जांच
अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने मंगलवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में सोमवार को कुल 1,48,118 कोरोना नमूनों की जांच की गई। वहीं अब तक कुल 77,84,281 कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है।

कुल 1.61 लाख मरीजों ने लिया होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 35,293 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। वहीं निजी अस्पतालों और होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी सुविधा के तहत भी लोगों का इलाज किया जा रहा है। इनके अलावा शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अभी तक कुल 1,61,273 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ ले चुके हैं, जिनमें से 1,25,980 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

11.62 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,04,956 इलाकों में 3,52,982 टीमों ने 2,33,64,211 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 11,62,99,938 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

प्रदेश में अब तक 64,453 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित
प्रदेश में कुल 64,453 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 7,48,354 से अधिक लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता की गई है।

6,653 बच्चों ने एक दिन में सरकारी अस्पतालों में लिया जन्म
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में कोविड के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में प्रसव की सुविधाएं पहले की तरह मुहैया करायी जा रही हैं। 13 सितम्बर को प्रदेश में 6,653 शिशुओं ने सरकारी अस्पतालों में जन्म लिया। इनमें 6,398 नॉर्मल डिलीवरी और 155 सिजेरियन प्रसव हुए।

यह खबर भी पढ़े: फरहान अख्तर के स्टाफ मेंबर 'रामू' का निधन, बॉलीवुड की कई हस्तियों ने किया व्यक्त शोक

यह खबर भी पढ़े: मोदी सरकार ने दिया किसानों को अपनी पसंद के निवेशकों के साथ जुड़ने का अधिकार

Recommended

Spotlight

Follow Us