बॉलीवुड की मास्टरजी सरोज खान की बायोपिक बनाएंगे रेमो डिसूजा

Daily Hunt News 08-07-2020 06:01:00

मुंबई। बॉलीवुड ने हाल में अपने प्रसिद्ध कोरियोग्राफर को खो दिया। सरोज खान का 3 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने से 71 साल की उम्र में निधन हो गया। बॉलीवुड में कई लोग उनकी शानदार यात्रा पर फिल्म बनाना चाहते थे। सरोज खान की बेटी सुकैना ने खुलासा किया कि कुछ लोगों ने  बायोपिक के लिए कोरियोग्राफर सरोज खान से संपर्क किया था, लेकिन उन्होंने इस विचार को खारिज कर दिया था। 

हालांकि अपने अंतिम दिनों के दौरान सरोज खान ने कहा था कि वह उत्सुक थी कि रेमो डिसूजा फिल्म का निर्देशन करें। क्योंकि वह एक डांसर हैं और उनकी यात्रा को समझेंगे। रेमो की जिंदगी की कहानी भी उनके जैसे जीरो से हीरो बनने की है। बॉलीवुड के मशहूर कोरियोग्राफर और निर्देशक रेमो डिसूजा सरोज खान की बायोपिक बनाएंगे। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

बतौर कोरियोग्राफार सरोज खान की आखिरी फिल्म कलंक का गाना तबाह हो गया था। इस फिल्म में उनके साथ माधुरी दीक्षित ने काम किया था। कलंक के सेट पर रेमो डिसूजा से उनकी बात हुई थी। रेमो ने उनसे वादा किया था कि वह बायोपिक पर काम करेंगे, लेकिन तब इस पर  काम शुरू नहीं हुआ था। रेमो अब सरोज खान की बायोपिक बनाने के इच्छुक हैं और वह मशहूर कोरियोग्राफर की बेटी के साथ उस पर काम करेंगे। हालांकि उन्होंने कहा कि अभी बायोपिक के बारे में बात करनी जल्दबाजी होगी। मैं सुकैना से मिलकर जल्द इस मामले पर बात आगे बढ़ाऊंगा।  

सरोज खान ने बाल कलाकार के रूप में बॉलीवुड में प्रवेश किया। उसके बाद बैकग्राउंड डांसर के रूप में काम किया और फिर सहायक कोरियोग्राफर बनी। उन्होंने 1974 में फिल्म गीता मेरा नाम से स्वतंत्र कोरियोग्राफर का काम शुरू किया। 1980 के दशक में सरोज खान बॉलीवुड की प्रमुख कोरियोग्राफर बन गई। इंडस्ट्री में लोग उन्हें मास्टरजी बुलाते थे। सरोज खान का सबसे अच्छा काम अभिनेत्री श्रीदेवी और माधुरी दीक्षित के साथ था। वह ऐश्वर्या राय बच्चन, शिल्पा शेट्टी और काजोल जैसी लगभग सभी प्रमुख कलाकारों के साथ काम कर चुकी थी। सरोज खान ने दो हजार से भी ज्यादा गाने को कोरियोग्राफ किया था।

यह खबर भी पढ़े: कानपुर एनकाउंटर : सोशल मीडिया में वायरल पत्र की जांच में कानपुर पहुंची IG रेंज लक्ष्मी सिंह

Recommended

Spotlight

Follow Us