अन्तर्राज्यीय स्तर पर मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह तीन सदस्य गिरफ्तार

Daily Hunt News 02-07-2020 22:15:00

लखनऊ। यूपी एसटीएफ की टीम ने नाॅरकोटिक्स विभाग के साथ मिलकर अन्तर्राज्यीय स्तर पर मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान टीम ने 18.68 कुन्तल गांजा बरामद किया है, जिसकी कीमत करीब साढ़े चार करोड़ रुपये है। पुलिस उपमहानिरीक्षक, एसटीएफ अनंत देव ने गुरुवार को बताया कि एसटीएफ फील्ड इकाई वाराणसी की एक टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ तस्कर दो ट्रकों में भारी मात्रा में गांजा लेकर बिहार की तरफ से जीटी रोड होते हुये आ रहे हैं। इसके बाद एसटीएफ प्रभारी निरीक्षक अमित श्रीवास्तव ने नॉरकोटिक्स विभाग की संयुक्त टीम के साथ वाराणसी के रोहनियां क्षेत्रान्तर्गत जगतपुर इण्टर काॅलेज के पास से तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। यह कार्रवाई बुधवार की देर रात को हुई है। 

पकड़े गए अभियुक्त महराजगंज के ग्राम बलिया निवासी अमित कुमार सिंह, बिहार निवासी मो. साकिब और शिवनाथ कुमार राम उर्फ सूरज ने पुलिस को बताया कि बरामद एक ट्रक राम मनोहर यादव और दूसरा ट्रक रविन्द्र पश्चिम बंगाल का है। दोनों ट्रकों में गांजा की तस्करी के लिये विशेष रूप से अलग से कैविटी बनायी गयी है, जिसमें यह गांजा छुपाकर तस्करी का काम करते हैं। हम लोगों को कोलकाता (पश्चिम बंगाल) निवासी डब्बू सिंह एवं प्रेम सिंह ने गांजा लेने के लिये सालूर (आन्ध्र प्रदेश) के रहने वाले माठी दादा के पास भेजा था, जहां इन दोनों ट्रकों में गांजा लादकर वाराणसी पहुंचने के लिये हम लोगों को बताया गया था। वाराणसी पहुंचने के बाद डब्बू सिंह एवं प्रेम सिंह बताते कि गांजा किसके यहां देना है। हम लोगों को गांजे की प्रति चक्कर सप्लाई के लिये किराये के अतिरिक्त 80 हजार रुपये मिलता था, जिसके लालच में आकर हम लोग यह गांजा लेकर सप्लाई के लिये आये। 

गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध नारकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो लखनऊ द्वारा एनसीबी केस क्राइम एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत कर थाना रोहनियां वाराणसी में अग्रिम आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

यह खबर भी पढ़े: देश में अप्रैल 2023 तक निजी ट्रेनों के चलने की संभावना: रेलवे

यह खबर भी पढ़े: मोहिना कुमारी ने एक महीने बाद कोरोना को दी मात, डॉक्टरों के साथ शेयर की सेल्फी

Recommended

Spotlight

Follow Us