दुष्कर्म के प्रयास में असफल रहने पर की गयी थी महिला की हत्या

Daily Hunt News 02-07-2020 20:45:09

एटा। जिला मुख्यालय के कोतवाली नगर क्षेत्र के पीपलअड्डा क्षेत्र में 30 जून को मिले महिला के निर्वस्त्र शव के मामले में पुलिस ने गुरुवार को खुलासा करते हुए छह आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों से हुई पूछताछ में सामने आया है कि आरोपितों द्वारा महिला से दुष्कर्म के प्रयास में असफल रहने पर महिला की हत्या की गयी थी। एसएसपी के अनुसार आरोपितों में एक याली नामक बदमाश भी है जो ब्लॉकप्रमुख की हत्या में जेल जा चुका है। पुलिस की सभी आरोपितों के विरूद्ध गैंस्टर व एनएसए के तहत कार्रवाई की तैयारी शुरु कर दी है। 

जिला मुख्यालय के कोतवाली नगर क्षेत्र स्थित पीपलअड्डा के पास एक खाली प्लॉट से बीते मंगलवार को 40 वर्षीय पिंकी पत्नी राजू वर्मा का रक्तरंजित निर्वस्त्र शव मिला था। महिला की ​सिर कुचलकर हत्या की गयी थी। घटना का एसएसपी, डीएम के अलावा अलीगढ़ मंडल के डीआईजी डा. प्रतेन्द्रसिंह द्वारा भी निरीक्षण किया गया था। महिला के पति राजूवर्मा द्वारा आरोपित हेमंत व बदनसिंह पर अपनी पत्नी की हत्या के आरोप लगाते हुए प्राथमिकी अंकित कराई गयी थी। 

एसएसपी सुनीलकुमार सिंह ने गुरूवार को मामले का खुलासा करते हुए जानकारी दी है कि पिंकी की आरोपितों द्वारा दुष्कर्म के प्रयास में असफल रहने पर हत्या की गयी थी। एसएसपी के अनुसार पकड़े गये आरोपित सुनील द्वारा पिंकी को उसके पति के एक्सीडेंट की झूठी सूचना देकर घर से बाहर बुलाया गया था। यहां सभी छह आरोपितों- पीपल अड्डा कृष्णानगर में ही रहने वाले हेमंत, याली उर्फ दिनेश, सुनील,त्रिवेन्द्र के अलावा  बदनसिंह पुत्र  अनिल यादव ने मृतक से सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास किया। इस प्रयास में असफल रहने पर मुख्य आरोपित हेमंत के साथ मिलकर मृतक की ​सिर कुचलकर हत्या कर दी गयी थी। 

एसएसपी सुनील कुमार सिंह के अनुसार घटना में गिरफ्तार आरोपितों में याली उर्फ दिनेश एक हिस्ट्रीशीटर अपराधी है। इसके खिलाफ थाना कोतवाली देहात में बाकयदा हिस्ट्रीशीट (सं. 209ए) खुली हुई है। यह ब्लॉक प्रमुख की हत्या के चर्चित मामले में भी आरोपित रहा है। इस पर अब तक 14 मामले दर्ज किये गये हैं। वहीं आरोपित त्रिवेन्द्र पर पास्को एक्ट सहित 3, आरोपित अनिल पर हत्या व हत्या के प्रयास के 4 तथा आरोपित हेमंत पर 2 मामले दर्ज हैं। एसएसपी ने आश्वासन दिया है कि वे आरोपितों पर गैंगेस्टर व एनएसए की कार्यवाही कराने के साथ-साथ मामले में फास्टट्रैक न्यायालय द्वारा जल्द सुनवाई कराकर आरोपितों को जल्द से जल्द सजा दिलाने का प्रयास करेंगे। 

यह खबर भी पढ़े: देश में अप्रैल 2023 तक निजी ट्रेनों के चलने की संभावना: रेलवे

यह खबर भी पढ़े: मोहिना कुमारी ने एक महीने बाद कोरोना को दी मात, डॉक्टरों के साथ शेयर की सेल्फी

Recommended

Spotlight

Follow Us