मोदी सरकार की तानाशाही के विरोध में... भारत बचाओ रैली शुरू, प्रियंका और राहुल ने संभाला मोर्चा

Daily Hunt News 14-12-2019 12:47:14

नई दिल्ली। आज दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान से अपनी आवाज बुलंद करने वाली है। भारत बचाओ रैली के जरिए कांग्रेस केंद्र पर हमला करेगी। वहीं ऐसी अटकलें है कि राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर वापसी कर सकते हैं। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष बनने के बाद सोनिया गांधी की यह पहली बड़ी रैली है। इसमें प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल होंगी। ये रैली कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व में हो रही हैं।इसमें देशभर से कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचेंगे।

ये खबर भी पढ़े: मोदी निर्मल गंगा के दर्शन करने के लिए पहुंचे कानपुर

खबर के अनुसार इसी बीच रैली से पहले राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा सरकार की तानाशाी के विरोध में वह आज जनसभा को संबोधित करेंगे। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'आज दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में कांग्रेस पार्टी की ओर से आयोजित भाजपा सरकार की तानाशाही, आईसीयू में पहुंचा दी गई अर्थव्यवस्था और लोकतंत्र की हत्या के विरोध मे जनसभा को संबोधित करूंगा।' 


भारतीय दूतावासों के सामने भी होंगे प्रदर्शन बेरोजगारी, बदहाल अर्थव्यवस्था और किसानों के मुद्दे पर इंडियन ओवरसीज कांग्रेस (आईओसी) ने शनिवार को दुनियाभर में भारतीय दूतावासों और उच्चायोग के बाहर प्रदर्शन करने का फैसला किया है।

 जानकारी के अनुसार आईओसी के सचिव वीरेंद्र वशिष्ठ ने कहा, 'विदेश में रह रहे भारतीय मूल के लोग देश के हालात को लेकर चिंतित हैं। केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते देश की अर्थव्यवस्था बुरी स्थिति में पहुंच चुकी है।

Save India rally

विदेश में बसे भारतीय मूल के लोग इन सब मुद्दों पर भारतीय दूतावासों के बाहर प्रदर्शन करेंगे।' वशिष्ठ के मुताबिक, आईओसी के अध्यक्ष सैम पित्रोदा अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, जर्मनी, सऊदी अरब और ओमान में भारतीय दूतावासों और उच्चायोग के बाहर होने वाले प्रदर्शन की निगरानी करेंगे।


आज बंद रहेंगे रामलीला मैदान की ओर जाने वाले कई मार्ग

रामलीला मैदान में शनिवार को कांग्रेस की रैली की वजह से पुरानी दिल्ली के कई रास्ते बंद रहेंगे। यातायात पुलिस ने वाहन चालकों से रामलीला मैदान की ओर जाने वाले रास्ते से बचकर चलने की अपील की है और उन्हें वैकल्पिक रास्तों का इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

ट्रैफिक के संयुक्त आयुक्त एनएस बुंदेला ने बताया कि रैली में काफी संख्या में लोगों के आने की संभावना है। इसको देखते हुए पुरानी दिल्ली व रामलीला मैदान के आसपास की कुछ सड़कों को बंद कर दिया जाएगा। कुछ मार्गों पर भारी वाहनों के परिचालन पर प्रतिबंध रहेगा।

इन रास्तों पर वाहनों की आवाजाही रहेगी बंद
-चमनलाल मार्ग नजदीक वीआईपी गेट।
-जवाहरलाल नेहरू मार्ग (राजघाट से दिल्ली गेट तक)।
-कमला मार्केट गोलचक्कर से गुरुनानक चौक।
-पहाड़गंज चौक से अजमेरी गेट की तरफ।
-रंजीत सिंह फ्लाईओवर बाराखंभा से गुरुनानक चौक तक।
-विवेकानंद मार्ग (आने-जाने वाले दोनों रास्ते)।

इन रास्तों पर कामर्शियल वाहनों को जाने की अनुमति नहीं
-अजमेरी गेट से हमदर्द चौक तक।
-मीरदर्द से तुर्कमान गेट तक।
-जवाहरलाल नेहरू मार्ग से दिल्ली गेट और राजघाट तक।
-गुरुनानक चौक से अजमेरी गेट।
-कमला मार्केट गोल चक्कर से हमदर्द तक।
-डीडीयू मार्ग, मिंटो रोड लालबत्ती से कमला मार्केट की तरफ।

Recommended

Spotlight

Follow Us