जन्म के 3 घंटे बाद हुई नवजात की मौत के बाद मां ने किया ये अनोखा काम...

Daily Hunt News 03-12-2019 01:30:00

नई दिल्ली। आज हम आपको एक ऐसी औरत के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे। दरअसल, सिएरा स्ट्रैंगफेल्ड एक ऐसी मां है जिन्हें बच्चे के पैदा होने से पूर्व ही मालूम था कि उनका बच्चा अधिक देर तक जीवित नहीं रहेगा।चिकित्सकों ने पहले ही कह दिया था कि उसके होने वाले बच्‍चे को trisomy 18 है। यह एक दुर्लभ अनुवांश‍िक स्‍थ‍िति है, जो पैदा होने संग ही बच्‍चे हेतु जानलेवा है। 

sdg

यह खबर भी पढ़े:3 साल बाद हुई महिला की डिलीवरी, देखकर हर कोई रह गया हैरान

यह दिक्कत शरीर में  अतिरिक्‍त क्रोमोजोम 18  की वजह से उत्‍पन्‍न होती है एवं इसमें शरीर के विकास में देरी हो जाती है। महिला से बातचीत में उन्होंने बोला कि चिकित्सकों ने बच्‍चा गिराने की सलाह दी थी, किन्तु वो अपने नवजात से मिलना चाहती थी। कुछ घंटों हेतु ही उसे दुलार करना चाहती थी। 

औरत के मुताबिक, ‘सैमुएल केवल एक बार मेरी बांहों से जुदा हुआ। तब चिकित्सक उसे ऑक्सीजन ट्यूब लगा रहे थे। हमने वो 3 घंटे साथ में व्यतीत किए। जब मैंने उसे छुआ तो अकस्मात उसका हार्ट रेट एवं ऑक्‍सीजन रेट में वृद्धि हो गई। ऐसे जैसे उसे मालूम था कि वह अपनी माता संग है। मैं उन 3 घंटों तक उसे बिना पलक झपके देख रही थी, किंतु वो 3 घंटे जैसे मिनटों में बीत व्यतीत हो गए।’

sdg

उन 3 घंटों में ही महिला ने एक निर्णय लिया। उन्‍होंने तय किया कि वो अपना दूध दान कर देंगी। उसकी ये तमन्ना थी कि उनका ब्रेस्‍ट मिल्‍क उन बच्‍चों के काम आए, जिन्‍हें इसकी सख्त आवश्यकता है। अमेरिका में जीवन बिताने वाली सिएरा के मुताबिक, उनके ब्रेस्‍ट मिल्‍क से अन्य नवजात बच्‍चों का जीवन बच सकता है। 63 दिनों तक महिला ने पम्प की मदद से अपना बेस्‍ट मिल्‍क इकत्रित किया। उन्‍होंने मदर्स मिल्‍क बैंक को 15 लीटर दूध प्रदान किया है। 

Recommended

Spotlight

Follow Us