हैदराबाद दुष्कर्म कांड के आरोपियों को शीघ्र हो फांसी

Daily Hunt News 02-12-2019 15:31:19

नई दिल्ली। हैदराबाद में एक पशु चिकित्सक की दुष्कर्म के बाद जला कर हत्या करने के मामले के आरोपियों को यथाशीघ्र फांसी की सजा दिये जाने की मांग करते हुये सोमवार को राज्य सभा में सभी राजनीतिक दलों के सदस्यों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर देश की पुलिस तंत्र और न्याय प्रणाली पर सवाल उठाये।

आम आदमी पार्टी के संजय सिंह और कई अन्य दलों के सदस्यों ने देश में हाल के दिनों में महिलाओं के प्रति अपराध में हुयी बढोतरी पर काम रोक कर नियम 267 के तहत चर्चा कराने का नोटिस दिया था। सुबह कार्यवाही शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडु ने कहा कि इस मुद्दे पर सदन में कई बार चर्चा हो चुकी है लेकिन फिर भी पूरे देश में इस तरह की घटनायें हो रही है। कठोर कानून भी बनाये गये लेकिन उसका भी भय नहीं हो रहा है। वह इस मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है लेकिन इसके लिए किसी राज्य या सरकार का नाम नहीं लिया जायेगा। इस पर शून्यकाल के तहत ही चर्चा की जायेगी।

यह खबर भी पढ़ें:​ राज्यसभा की एक मात्र खाली सीट से भाजपा के अरूण सिंह ने किया नामांकन

सदन के विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने चर्चा की शुरूआत करते हुये कहा कि जब भी इस तरह की गंभीर घटना होती है सदन में चर्चा की जाती है। इसके लिए कठोर कानून भी बनाये गये हैं। आरोपियों को सजा भी हुयी है लेकिन अपराधियों के मन में भय पैदा नहीं हो रहा है। इस तरह की घटना पर रोक लगाने के लिए कानून, पुलिस और न्यायपालिक ही काफी नहीं है बल्कि सामाजिक स्तर पर पहल किये जाने की जरूरत है।

कांग्रेस की यमी याग्निक ने कहा कि कानूनी स्तर पर कठोर कानून बनाये जा चुके हैं लेकिन अब सामाजिक एवं मानसिक स्तर पर बदलाव लाये जाने की जरूरत है। जब तक सामाजिक और मानसिक स्तर पर बदलाव नहीं आयेगा तब तक इस समस्या का हल नहीं हाे सकता है।

Recommended

Spotlight

Follow Us