अच्छी खबर! इस राज्य में विवाह पर दुल्हन को मिलेगा 10 ग्राम सोना, बस करना होता ये काम...

Daily Hunt News 22-11-2019 14:41:44

गुवाहाटी। असम सरकार ने विवाहों का रजिस्ट्रेशन करवाने को बढ़ावा देने व बाल विवाह को रोकने के इरादे से अरुंधति स्वर्ण योजना प्रारंभ की है। इस योजना के तहत राज्य की प्रत्येक लड़की के विवाह में 10 ग्राम सोना उपहार में प्रदान किया जाएगा। यह स्कीम अगले साल जनवरी से प्रारंभ होगी। 

afdf

यह खबर भी पढ़े:2 फीट के पाकिस्तानी ने रचाई 6 फीट की खूबसूरत दुल्हन से शादी, देखें शादी का डांस VIDEO

पूरी करनी होगी ये शर्त
राज्य के वित्त मंत्री हिमंत बिस्व सरमा की माने तो, अरुंधति स्वर्ण योजना का फायदे पाने हेतु कुछ शर्तें भी हैं। प्रत्येक वयस्क दुल्हन, जिसने कम से कम 10वीं की पढ़ाई की है तथा अपने विवाह को रजिस्टर्ड कराया है, उसे 10 ग्राम सोना उपहार के रूप में देगी। 

इस योजना का फायदा लेने हेतु दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपए से कम होनी चाहिए। इस योजना का फायदा लड़की की पहली बार शादी पर ही मिलेगा एवं इसे स्पेशल मैरिज एक्ट 1954 के तहत रजिस्टर कराना होगा। 

बैंक में जमा होंगे 30 हजार 
मंत्री ने ये भी बिल्कुल साफ किया है कि इस योजना के तहत सोना फिजिकल फॉर्म में नहीं प्रदान किया जाएगा। विवाह के रजिस्ट्रेशन और वेरिफिकेशन के पश्चात 30,000 रुपए दुल्हन के बैंक अकाउंट में जमा किए जाएंगे। तत्पश्चात उसे सोने की खरीद की रसीद सबमिट करनी होगी। 

10 ग्राम सोने हेतु 30,000 का अमाउंट पूरे वर्ष सोने के औसत दाम पर गौर करने के पश्चात तय किया गया है। इसे प्रत्येक बजट में संशोधित किया जाएगा। विवाह को डिप्टी कमिश्नर्स के ऑफिसेज के सिवा सर्किल ऑफिसेज में भी पंजीकृत कराने की इजाजत प्रदान की जाएगी। 

सरकारी खजाने पर पड़ेगा 800 करोड़ का भार 
बता दें कि, इस योजना से सरकारी खजाने पर सालाना लगभग 800 करोड़ का व्यय आएगा। फिलहाल असम सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में इस योजना पर तीन माह हेतु 300 करोड़ का बजट ​रखा है। 

Recommended

Spotlight

Follow Us