अगर आप भी पीते हैं थेर्मोकोल या डिस्पोजल में चाय तो जरा समल जाइये वरना हो सकते हैं इस बीमारी का शिकार...

Daily Hunt News 15-11-2019 13:17:24

डेस्क। आज के जमाने में  हर कोई चाय के शौकीन हैं वो सफ़र के दौरान या फिर किसी भी राह चलते दूकान से थेर्मोकोल या फिर डिस्पोजल ग्लास में चाय लेकर पीते। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की हमेशा डिस्पोजल या फ्री थेर्मोकोल से बनी ग्लास में चाय पीना आपकी सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक साबित हो सकती है। आईये आपको बताते हैं की आखिर डिस्पोजल या फिर थेर्मोकोल की ग्लास में चाय क्यूँ नहीं पीना चहिये। 

 ये खबर भी पढ़े: दाद से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये देसी फंडा, कुछ ही दिनों में हो जायेगा छूमंतर

lifestyle

डॉक्टर्स का कहना है कि प्लास्टिक के कप में गरम चाय का लगातार सेवन करने से किडनी और लीवर के कैंसर की आशंका बढ़ जाती है। अक्सर डिस्पोजल या फिर थेर्मोकोल के ग्लास में चाय पीने से उसमे मौजूद पोलीस्ट्रींन नाम का तत्व चाय एक साथ मिलकर हमारे पेट के अंदर चला जाता है जिस वजह से कैंसर जैसे रोग से भी आप ग्रसित हो सकते हैं।

थेर्मोकोल या फिर डिस्पोजल में चाय पीना या फिर किसी भी अन्य प्रकार का गर्म पदार्थ पीना आपके शारीर में एलर्जी के रूप में लाल चकते उत्पन्न कर सकता है या फिर यदि आप रोजाना इसका इस्तेमाल चाय या गर्म पदार्थ पीने में करते हैं तो आपको गले में  खरास और सीने में दर्द की समस्या भी हो सकती है।

lifestyle
डिस्पोजल या थर्मोकोल में चाय या अन्य पे पदार्थ पीने से उसमे मौजूद कीटाणु आयर बैक्टेरिया पेट में चले जाते हैं जिससे आपका पेट भी ख़राब हो सकता है और पेट में जलन की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।

- इन ग्लास में चाय पीने से इसमें मौजूद एसिड भी पेट के अन्दर पहुँच जाता है जो की आपके पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचाता है।


-डिस्पोजल या फिर थेर्मोकोल के ग्लास में चाय पीना आपको कैंसर की समस्या के साथ ही आपको पेट की अन्य समस्या जैसे की डाईरिया आदि से भी परेशान कर सकता है। इसमें कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते है जो की आपको कैन्सर जैसे जानलेवा रोग का शिकार बनाने के साथ ही साथ डायबिटीज, हार्ट प्रॉब्लम आदि का भी शिकार बना सकते हैं।

lifestyle
-प्‍लास्टिक के कप में मेट्रोसेमिन, बिस्फिनोल और बर्ड इथाईल डेक्सिन नामक कैमिकल हमारे शरीर में पहुंचते हैं, जो शरीर केलिए बहुत अधिक नुकसानदायक है। बच्‍चों और गर्भवती महिला ओं के लिए यह खतरा बढ़ा सकते है।

Recommended

Spotlight

Follow Us