आयकर विभाग का राष्ट्रीय ई निर्धारण केंद्र शुरू

Daily Hunt News 07-10-2019 19:00:34

नई दिल्ली। आकलन प्रक्रिया में ज्यादा दक्षता, पारदर्शिता और जवाबदेही लाने के लिए फेसलेस यानी गुप्त ई आकलन की शुरुआत करने वाला आयकर विभाग का राष्ट्रीय ई निर्धारण केन्द्र काम करने लगा है। राजस्व सचिव अजय भूषण पांडेय ने सोमवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम में इस केन्द्र का शुभारंभ किया। उन्होंने इसे आयकर विभाग के लिए गौरव की बात और बहुत बड़ी उपलब्धि बताते हुये कहा कि बहुत कम समय में विभाग ने इस केन्द्र को शुरू कर दिया है।

यह खबर भी पढ़ें: ​सरकारी-निजी क्षेत्र की नौकरियों में युवाओं के लिए 75 प्रतिशत आरक्षण करेंगे- दुष्यंत

उन्होंने कहा कि इस केन्द्र की शुरूआत के साथ ही आयकर विभाग फेसलेस ई आंकलन की शुरूआत कर दी है जिससे आंकलन प्रक्रिया में दक्षता, पारदर्शिता और जिम्मेदारी आयेगी। उन्होंने में अब आय करदाताओं और आयकर अधिकारियों के बीच सीधा संपर्क नहीं होगा।

इस मौके पर केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के अध्यक्ष प्रमोदी चंद मोदी ने कहा कि पहले चरण में 58322 मामलों को ई आंकलन स्कीम 2019 के लिए चयन किया गया है। इसके लिए 30 सितंबर से पहले ही ई नोटिस जारी कर दिया गया था। आय करदाताओं को अपने पंजीकृत ई मेल/ ऑनलाइन रिटर्न फाइलिंग को चेक करने की सलाह दी गयी है और 15 दिनों के भीतर जबाव देने के लिए कहा गया है।

उन्होंने कहा कि नेशनल ई-एसेसमेंट केंद्र यानी राष्ट्रीय ई-निर्धारण केंद्र (एनईएसी) की स्थापना आयकर विभाग का बेहतर करदाता सेवा के उद्देश्य, करदाता की शिकायतों के निवारण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह डिजिटल इंडिया के दृष्टिकोण और कारोबारी सुगमता को बढ़ावा देने के अनुरूप उठाया गया है। इसका मुख्यालय राजधानी दिल्ली में है जबकि आठ मुंबई, चेन्नई, दिल्ली, कोलकाता, अहमदाबाद, हैदराबाद, पुणे और बेंगलुरू में क्षेत्रीय केन्द्र बनाये गये हैं।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us