हर्षवर्धन ने लाँच की ई-दंतसेवा वेबसाइट और मोबाइल एप्लीकेशन

Daily Hunt News 07-10-2019 18:36:17

नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि मुख स्वास्थ्य किसी भी व्यक्ति के बेहतर स्वास्थ्य और गुणवत्ता पूर्ण जीवन के लिए बेहद जरूरी है और मुख स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों का मानव विकास पर नकारात्मक असर पड़ता है।

गांधी पर 11 अक्टूबर से युवा लेखकों का पहला सम्मेलन

डॉ हर्षवर्धन ने सोमवार को यहां मुख स्वास्थ्य से जुड़ी ई-दंतसेवा वेबसाइट और एक मोबाइल एप्लीकेशन को लांच किया जो मुख स्वास्थ्य के बारे में हर तरह की जानकारी और ज्ञानवर्धन करने की दिशा में राष्ट्रीय स्तर पर पहला डिजिटल प्लेटफार्म है। यह वेबसाइट मुख स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्रदान करती है और मात्र एक क्लिक से कोई भी व्यक्ति एक अरब से अधिक लोगों से जुड़ जाएगा। इस मौके पर उन्होंने ब्रेल बुकलेट भी जारी की। इसमें आवाज के माध्यम से मंददृष्टि लोगों को मुख स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी गई है।

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों की जानकारी बढ़ाने के लिए डिजिटल प्लेटफार्म की अहमियत को स्वीकार किया है और उन्हीं से प्रेरणा लेकर यह महत्वपूर्ण पहल की गयी है। इस वेबसाइट पर लोगों को मुख स्वास्थ्य और दांतों की बीमारियों से जुड़ी हर तरह की जानकारी मिल सकेगी और समय रहते वे अपना उपचार करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय आबादी को काफी लंबे समय से दांतों की सड़न (डेंटल कैरीज) मसूडों तथा मुख गुहा (पैरीडोंटल) संबंधी व्याधियों का सामना करना पड़ रहा है और इनसे होने वाले दंत संक्रमण बाद में काफी गंभीर हो जाते हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय की यह पहल अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और अन्य हितधारकों के साथ मिलकर की गई है और इसका मकसद जनता को अधिकतम मुख स्वास्थ्य देखभाल करने के लिए प्रेरित करना तथा इससे संबंधित बीमारियों के बारे में जागरुक बनाना है। इस वेबसाइट पर प्रामाणिक वैज्ञानिक जानकारी है जो विभिन्न स्रोतों से ली गई है और इस दांत संबंधी या मुखगुहा के बारे में किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने में समय से सलाह मिल जाती है।

वेबसाइट में आम लोगों को अपने आसपास दंत सुविधाओं की के बारे में जानकारी देने के लिए जीपीआरएस मार्ग, और उपग्रह चित्र भी दिए गए हैं ताकि लोग इनका उपयोग कर सकें। ब्रेल बुकलेट नेत्रहीनों को यह जानकारी और शिक्षा का उपयोग करने के लिए है जो दृष्टिबाधित व्यक्तियों को आवाज के माध्यम से मुख स्वास्थ्य के बारे में जानकारी तथा इसके महत्व के बारे में जानने का अवसर प्रदान करेगा।

इस मौके पर स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन, एम्स के निदेशक प्रो.रणदीप गुलेरिया, डॉ ओ पी खरबंदा, दंत शिक्षा और शोध केन्द्र, एम्स, इंड़ियन डेंटल एसोसिएशन के सचिव डॉ अशोक धोबले और ब्लाइंड रिलीफ एसोसिएशन के छात्र तथा संकाय सदस्य भी मौजूद थे।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us