अयोध्या का ढांचा बाबर ने बनवाया था: मुस्लिम पक्षकार

Daily Hunt News 20-09-2019 21:34:13

नई दिल्ली। अयोध्या में रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद की सुनवाई के दौरान शुक्रवार को मुस्लिम पक्षकार ने उच्चतम न्यायालय के समक्ष बाबरनामा उद्धृत करते हुए कहा कि अयोध्या में बाबर ने ढांचे का निर्माण कराया था।

यह खबर भी पढ़ें: ​लाइसेंस और अन्य दस्तावेज साथ लेकर चलने की जरूरत नहीं, माना जायेगा पूरी तरह वैध, जानें

मुस्लिम पक्ष के वकील डाॅ. राजीव धवन ने मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ के समक्ष कहा, “मैं बाबरनामा उद्धृत कर रहा हूं। बाबरनामा के उद्धरण और अनुवाद से पता चलता है कि इस ढांचे का निर्माण बाबर ने कराया था।”

डाॅ. धवन ने कहा कि अभियोजन पक्ष केवल चुनींदा राजपत्रों पर विश्वास नहीं कर सकता है और उन अभिलेखों को नहीं छोड़ सकता है जिनमें यह बताया गया है कि बाबर ने यहां मस्जिद का निर्माण कराया था। उन्होंने कहा कि चुनींदा रिपोर्ट को छोड़ा नहीं जा सकता है। बाबर अपने हाथ से समरकंद निकलने के बाद भारत आया था। उस समय वह ‘छोटा बालक’ था।

उन्होंने कुछ ऐसी वस्तुएं भी पेश की जिन पर बाबरी मस्जिद के संबंध में अरबी और फारसी भाषा में अभिलेख अंकित हैं। उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि के दावों को मानने के कानूनी नतीजे होंगे।

वरिष्ठ अधिवक्ता ने कहा कि लोगों के दिलों में विश्वास है जिससे हर कोई आपस में जुड़ा हुआ है। शीर्ष न्यायालय हमारे मामले पर सुनवाई के लिए है। हम सभी को न्यायपालिका पर विश्वास है कि वह इस विवाद का निपटारा करेगी और एक ऐसा फैसला लेगी जो सभी पक्षों के लिए फायदेमंद होगा।

संविधान पीठ के अन्य सदस्य न्यायमूर्ति एस अरविंद बोबडे, न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर हैं। गौरतलब है कि छह अगस्त से उच्चतम न्यायालय रोजमर्रा के आधार पर इस मामले की सुनवाई कर रहा है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us