कमलनाथ की बढ़ेंगी मुश्किलें, 1984 सिख दंगों की फिर खुलेगी फाइल

Daily Hunt News 10-09-2019 14:57:13

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, क्योंकि गृह मंत्रालय ने दिल्ली में साल 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों की फाइलें दोबारा खोलने हेतु हरी झंडी दे दी है। 

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में हुए इन दंगों में वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं कमलनाथ का भी नाम है। गृह मंत्रालय का ये निर्णय अगस्ता वेस्टलैंड मामले के सिलसिले में कमलनाथ के भतीजे रतुल पुरी की गिरफ्तारी के थोड़े दिन के पश्चात आया है। 

यह खबर भी पढ़े:अर्थव्यवस्था की मंदी पर केंद्र सरकार की कड़ी निंदा करते हुए प्रियंका ने कहा...

दिल्ली के संसद मार्ग थाने में दर्ज प्राथमिकी में कमलनाथ का नाम कभी नहीं आया। इस दौरान वो कांग्रेस कमेटी के इंचार्ज, जनरल सेक्रेटरी एवं कैबिनेट मंत्री रह चुके थे। सिख विरोधी दंगों से जुड़े 7 मामले 1984 में वसंत विहार, सन लाइट कालोनी, कल्याणपुरी, संसद मार्ग, कनॉट प्लेस, पटेल नगर व शाहदरा पुलिस थानों में दर्ज किए गए थे।

अकाली दल नेता ने बोला कि, “शीघ्र ही कमलनाथ गिरफ्तार कर लिए जाएंगे एवं जो दंड सज्जनकुमार भुगत रहे हैं, वही उन्हें भी भुगतनी होगी।” 3 बार के कांग्रेस सांसद सज्जन कुमार साल 1984 के सिख विरोधी दंगों में अपने रोल हेतु उम्रकैद की सजा काट रहे हैं। 

मीडिया से बात करते हुए सिरसा ने बोला कि वो कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से हठपूर्वक प्रार्थना करते हैं कि वह कमलनाथ से इस्तीफा लेवे। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us