झारखंड मॉब लिंचिंग केस में आया नया मोड़, पुलिस ने हटाई हत्या की धारा

Daily Hunt News 10-09-2019 12:16:31

सरायकेला। झारखंड मॉब लिंचिंग केस में नया मोड़ आ गया है। तबरेज अंसारी की मारपीट के पश्चात मृत्यु के मामले में आरोपियों के विरुद्ध अब मौत का मुकदमा नहीं चलेगा। सरायकेला के एसपी कार्तिक एस का बताना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में तबरेज की मृत्यु की वजह कार्डियक अरेस्ट तथा फ्रैक्चर बताया गया है।

ऐसे में पुलिस ने चिकित्सकों की टीम से रिओप‍नियन लिया, जिसमें ह्दयाघात को ही उसकी मृत्यु का कारण बताया गया है। जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने बीते माह चार्जशीट में धारा 304 के तहत मामला दर्ज किया था। 

यह खबर भी पढ़े:1.16 लाख का कटा चालान, मालिक ने भरने को पैसे दिए तो ड्राइवर लेकर हुआ फरार

पुलिस ने इससे पूर्व अंसारी की पत्नी की शिकायत पर दर्ज एफआईआर में आरोपियों पर मौत का आरोप लगाया था। इससे पूर्व बोला गया था कि बाइक चोरी करने के संदेह में बेरहमी से पीटे गए तबरेज की मृत्यु ब्रेन हैमरेज की वजह से हुई थी। 

पुलिस सूत्रों की माने तो, चिकित्सकों के जरिए जमा कराई गई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बोला गया है कि अंसारी के सिर की हड्डी टूट गई थी जिससे ब्रेन हैमरेज हुआ व वो मर गया। इस वर्ष जून में बाइक चोरी में हाथ होने की आशंका के चलते लोगों के एक समूह ने अंसारी को पीटा तथा उनसे 'जय श्री राम' का नारा लगाने को बोला था। 

घटनास्थल से उनके 2 साथी भागने में सफल हो गए थे। मारपीट की घटना के 1 सप्ताह के पश्चात अंसारी की पुलिस हिरासत में मृत्यु हो गई थी। उनकी मौत के मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us