नये क्षेत्रों में सहयोग बढ़ायेंगे भारत और भूटान

Daily Hunt News 17-08-2019 21:07:39

नई दिल्ली। भारत और भूटान ने शनिवार को द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने पर सहमति जताते हुए पनबिजली क्षेत्र से आगे बढ़ते हुए स्वास्थ्य, शिक्षा, विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भी सहयोग बढ़ाने की संभावनाओं का पता लगाने का निर्णय लिया। भूटान की दो दिन की यात्रा पर गये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की वहां के प्रधानमंत्री लोतेय शेरिंग के साथ यहां बातचीत के बाद विदेश सचिव विजय गोखले ने संवाददाताओं से कहा कि दोनों देशों की भागीदार परस्पर हितों के साथ साथ परस्पर भरोसे पर टिकी है।

यह खबर भी पढ़ें: हरियाणा को विश्व में विकसित मॉडल बनाने का है लक्ष्य: खट्टर

इसमें दोनों देशों के लोगों के बीच परस्पर संपर्क का भी अपना महत्व है। इस यात्रा से दोनों देशों को संबंधों को और मजबूत करने का नया अवसर मिला है। उन्होंने जोर देकर कहा कि दोनों देश सहयोग के परंपरागत क्षेत्रों से आगे बढ़कर सहयोग के नये क्षेत्रों का पता लगायेंगे। विज्ञान,प्रौद्योगिकी और शिक्ष के क्षेत्र का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इनमें सहयोग के लिए आज करारों पर हस्ताक्षर किये गये हैं।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

अब दोनों देश अंतरिक्ष के क्षेत्र में भी सहयाेग करेंगे। भारत, भूटान के वैज्ञानिकों को प्रशिक्षण देने तथा छोटे उपग्रहों पर मिलकर काम करने के लिए तैयार है। इसके अलावा स्वास्थ्य के क्षेत्र पर भी ध्यान दिया जायेगा। गोखले ने कहा कि मोदी और शेरिंग ने द्विपक्षीय संबंधों के तमाम पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Recommended

Spotlight

Follow Us